अयोध्या में विवादित स्थल पर सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी पूजा-पाठ की इजाजत”याचिका की खारिज


खबर समाचार दर्शन

दिल्ली:-सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद स्थल से लगी गैरविवादित जमीन पर मौजूद नौ प्राचीन मंदिरों में पूजा-पाठ करने की मांग करने वाली याचिका खाारिज कर दी है। शुक्रवार को इस पर सुनवाई करते हुए अदालत ने कहा”आप इस देश को कभी शांति से नहीं रहने देंगे”चीफ जस्टिस रंजन गोगोई और जस्टिस संजीव खन्ना की बेंच ने कहा”वहां हमेशा ही कुछ होगा। सुप्रीम कोर्ट ने इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच के 10 जनवरी के दिए आदेश के खिलाफ दायर अपील पर सुनवाई करने के दौरान यह बात कही। दरअसल हाईकोर्ट ने वहां नौ मंदिरों में पूजा पाठ करने के लिए उसकी सहमति मांगने वाली एक याचिका को खारिज करते हुए याचिकाकर्ता को खर्च के तौर पर पांच लाख रुपए भी भरने का निर्देश दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने अपील पर सुनवाई करते हुए कहा कि याचिकाकर्ता पंडित अमरनाथ मिश्रा को इस मुद्दे पर कुरेदना बंद करना चाहिए। सामाजिक कार्यकर्ता मिश्रा ने हाई कोर्ट के सामने यह दावा किया था कि अधिकारी प्राचीन मंदिरों में धार्मिक गतिविधियां शुरू करने के प्रति उदासीन है। साथी मिश्रा का दावा था कब्जे में लिए गए यह मंदिर अविवादित भूमि पर हैं इनमें पूजा पाठ की इजाजत दी जाए।
बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या भूमि विवाद के हल हेतु हाल ही में मध्यस्थों का एक पैनल नियुक्त किया है जिसे इस विवाद को मध्यस्थता के माध्यम से निपटाने की जिम्मेदारी दी गई है।

रिपोर्ट:एस,एम,वासिल/ साजिद एडवोकेट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *